शुक्रवार, 18 अप्रैल 2008

आईपीएल : क्या क्रिकेट की परिभाषा बदल पायेगी ?

आज आईपीएल का प्रारंभ हो रहा है, और क्रिकेट प्रेमी इस को लेकर बहुत उत्सुक हैं वैसे तो २०-२० का प्रारंभ तो काफी पहले हो गया था, आईसील ने क्रिकेट के इस रुप से भारतीयो को अवगत कराया , लेकिन इतने बङे पैमाने पर इस खेल को लाने का काम आईपील कर रही है प्रारंभ से ही आईपील नये किर्तीमान बनाते रही है, चाहे टीम की नीलामी हो या फिर खिलाङीयों की
आईपीएल अपने साथ बङे-बङे नाम को जोङने में कामयाब रही हैं इससे क्रिकेट प्रेमीयों की आशाएँ बढ गई है अब जब आज आईपीएल की शुरुआत हो रही है , लोगों की निगाहें इस पर टीकी है पैसों के मामले मे आईपीएल आगे जरुर है , पर क्या आईपीएल क्रिकेट २०-२० के स्तर को उठा पायेगा क्या ये क्रिकेट मे कुछ नये सितारें उभार पायेंगे ? खिलाङी खेल के स्तर को अंतरराष्ट्रीय दर्जे का बना पायेंगे ? क्या खिलाङी जो आज तक एक साथ खेलते रहे थे , अब एक दुसरे के विरुद्ध खेल पायेंगे ? यह सब तो समय ही बता पायेगा ।
बीसीसीआई ने पैसे तो खुब कमा लिये , अब बारी है क्रिकेट प्रेमीयो के आशाओं पर खरा उतरने की दर्शक आईपीएल से तभी जुङे रह पायेंगे अगर खेल मजेदार होगा और टीमों के बीच अच्छी प्रतीद्वंदीता रहेगी अब बस इंतजार है आज शाम का

1 comments:

rakhshanda ने कहा…

aaj se ek naye yug ki shuruaat ho rahi hai..lekin dar yahi hai ki ye aane vaale samay mein cricket ko nuksaan zyada de kar jayega...dekhen kya hota hai...paison ki buniyad par tiki cheezen kabhi kisi ko kuchh nahi deti...

पूर्ण-विराम